सामग्री पर जाएं
Advertisements

श्रीदेवी की मौत का प्राइम टाइम शो-RIP से TRP तक

रूप की रानी, नागिन या कहे हवा हवाई, चांदनी श्रीदेवी की मौत ने सबको ‘सदमा’ दिया। लेकिन श्रीदेवी की मौत पर हो रहा है टीवी न्यूज़ चैनलों का हाई रेटेड प्राइम टाइम शो बहुत ही गिरी हुई स्तर की पत्रकारिता है

शीना बोरा हत्याकांड, आरूषि तलवार मर्डर केस,जेसिका लाल मर्डर केस और निठारी कांड में अपनी ऑन द स्पॉट रिपोर्टिंग के टैलेंट का लोहा मनवा चुकी भारतीय मीडिया को श्रीदेवी के रूप में एक नया मसाला हाथ लगा है। दुबई से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने से पहले तक सभी टीवी चैनलों पर खबर थी कि श्रीदेवी की मौत से किस तरह बॉलीवुड और उनके चाहने वालों को सदमा लगा है। टीवी पर उनके जीवन और उनके फिल्मी करियर को याद किया जा रहा था। ओ मेरी चांदनी, हवा हवाई, ये लम्हे ये पल,आई लव यू और ना जाने कितने सुपरहिट गानों से टीवी स्क्रीन जैसे रो रही थी।

DW9ebfFU8AAss0p

श्रीदेवी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट (PHOTO-TWITTER)

लेकिन जैसे ही दुबई से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई जिसमें श्रीदेवी की हार्ट अटैक की मौत को गलत बताते हुए डूबने से हुई मौत को असली वजह बताया गया। रिपोर्ट में ये भी लिखा गया कि श्रीदेवी के शरीर में अल्कोहल यानि शराब भी पाई गई थी।

सुबह से ही श्रीदेवी का शव भारत पहुंचने की खबर थी लेकिन शाम के करीब 4 बजे आई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पूरी कहानी बदल चुकी थी। ‘चांदनी’ की मौत मिस्ट्री हो गई थी, चैनलों पर अचानक से दुख का सैलाब मर्डर मिस्ट्री की बहस में बदल चुका था।

हद तो तब हुई जब रात में प्राइम टाइम चला। चैनलों पर प्रोमो चले कि बाथ टब में श्रीदेवी के वो आखिरी पल, बाथ टब का राज क्या है और ऐसे ही कुछ सनसनीखेज लाइनें लोगों को आकर्षित कर रही थी।

HHHH

लेकिन सबसे ज्यादा हद कर दी तेलगु चैनल समा टीवी ने जिसका रिपोर्ट बाथ टब में श्रीदेवी की मौत का लाइव डैमो देने उतर गया। ट्वीटर से लेकर फेसबुक, वॉट्सअप, इंस्टाग्राम पर इस रिपोर्टिंग को लेकर काफी सवाल उठाए गए। टीवी 9 की भी महिला रिपोर्टर भी इसी कारनामे को दोहराती देखी गईं।

GGGGG

समा टीवी के रिपोर्टर का फोटो सोशल मीडिया पर इस तरह सर्कुलेट हुआ कि मलयालम एक्ट्रेस प्रिया प्रकाश भी उनसे पिछडती दिख रही हैं। एक दिन में ये रिपोर्टर लोगों के गुस्से का शिकार बन गया और सोशल मीडिया पर इसी फोटो को ट्रेड मार्क बनाकर भारत के समाचर चैनलों के काम करने के तरीके पर सवाल उठाए गए। ट्वीटर पर पाकिस्तान से आने वाली फनी रिपोर्टिंग से इस रिपोर्टिंग को कम्पेयर भी किया गया।

FFFF

श्रीदेवी की मर्डर मिस्ट्री यहीं नहीं थम जाती। मसालेदार बुलेटिन प्राइम टाइम में खूब चले और हर न्यूज शो में ये बताया गया कि श्रीदेवी की मौत के क्या-क्या वजह हो सकती हैं। किसी ने कहा कि कहीं बोनी कपूर ने तो श्रीदेवी को नहीं मारा क्योंकि वही श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर डेट देने पहुंचे थे। किसी चैनल पर चला कि श्रीदेवी ने शायद इतनी शराब पी ली हो कि उन्हें कोई होश ना रहा हो यानि क्या श्रीदेवी शराबी हैं। किसी ने कहा कि श्रीदेवी ने ड्रग्स ले रखे थे और कोई दर्द छुपाने के लिए अक्सर वो ड्रग्स का सेवन करती थी। इन सबके बीच ट्वीटर पर भी एक पोल किया जा रहा है कि श्रीदेवी की मौत की वजह हो क्या सकती है।

Capture

ट्वीटर पर ही श्रीदेवी की मौत को मर्डर मिस्ट्री बनाने में जुटी मीडिया पर गुस्सा भी उतारा रहा है। #LetHerRestInPeace के नाम से चल रहे हैशटैग पर ट्वीट करके श्रीदेवी की आत्मा की शांति की प्रार्थना की जा रही है और मीडिया से विनती की जा रही है कि वो इस मामले को ज्यादा तूल ना दे।

DXCEuAkWkAEnyzh

ट्वीटर पर हैशटैग #LetHerRestInPeace के साथ ये तस्वीर शेयर की जा रही है

हालांकि लोगों के गुस्से के आगे कई मीडिया हाउस के मालिक पिघल गए और अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए न्यूज चैनलों पर चल रही इस तरह की खबरों की निंदा भी की।

BBBBBBBBBBB

लोगों का गुस्सा जायज है लेकिन मीडिया अपनी ड्यूटी कर रहा है। यूरोप और अमेरिका के जैसे चनलों से संजीदगी की उम्मीद मीडिया से की जाती है लेकिन इसी तरह की खबरें दिखाने वाले चैनल NDTV की TRP की क्या हालत है वो भी देख लीजिए। एक समय पर देश का बड़ा चैनल रहने वाला NDTV आज TRP की दौड़ से बिल्कुल बाहर लेकिन खबर दिखाने का तरीका आज भी बिल्कुल साधारण है। DD NEWS भी इसी कैटेगरी में आता है जो बिना किसी मिर्च मसाले के खबरें दिखाता है लेकिन उसे देखता कौन है कोई नहीं।

GGGGGGGGGGGGG

मतलब जो जनता देखती है वहीं न्यूज चैनल दिखाते हैं, जनता को क्या पसंद है इसका आकलन चैनल के संपादक लगाते हैं और उसी तरीके से लोगों तक खबरें भेजी जाती हैं। लेकिन फिर भी मौत जैसे गंभीर मामले पर जो खबरें चल रही हैं वो निंदा के ही काबिल हैं। भारत के मीडिया हाउस ये तय कर सकते हैं कि ऐसी खबरों में संजीदगी बरती जाए लेकिन ऐसा होगा नहीं क्योंकि TRP की दौड़ में कौन पीछे छूटना चाहता है। तो भईया देखते रहिए मीडिया का खेला।

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: