सामग्री पर जाएं
Advertisements

नीति आयोग के बहाने ज़बरदस्त और धुआंधार राजनीति: 2019 जब पास हो तो ड्रामा तो बनता है

दिल्ली में नीति आयोग की बैठक तो हुई लेकिन राजधानी में सियासत की खिचड़ी भी खूब पकी। दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल के दफ्तर में खूंटा गाढ़ प्रदर्शन कर रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को समर्थन देने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी उनके घर तक जा पहुंचे। नीति आयोग की बैठक के बहाने दिल्ली के सरकारी दौरे पर आए चार मुख्यमंत्री ने गैर-बीजेपी और गैर-कांग्रेसी एकजुटता का प्रदर्शन किया।

Df0yby1X4AEqEC9

अरविंद केजरीवाल के घर पहुंचे 4 राज्यों के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, पी. विजयन, चंद्रबाबू नायडू, कुमारस्वामी

मां, माटी, मानुष के आंदोलन से मुख्यमंत्री बनीं ममता बनर्जी और बाकी 3 मुख्यमंत्रियों ने प्रेस कांफ्रेंस भी की। सभी ने एक स्वर में दिल्ली में जारी गतिरोध को खत्म करने की मांग की। चारों ने उप-राज्यपाल दफ्तर में प्रवेश की अनुमति भी मांगी ताकी वह धरने पर बैठे मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिल सके, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई। ममता बनर्जी से जब पूछा गया कि वह अनुमति नहीं मिलने के बावजूद उप-राज्यपाल दफ्तर जाएंगी तो उन्होंने कहा, “हम लोग सड़क के भिखारी नहीं हैं और हमारी भी इज़्ज़त है।”

DfipLLCUEAAxwNn

दिल्ली के उप-राज्यपाल दफ्तर में धरने पर बैठे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, मंत्री मनीष सिसौदिया, सत्येंद्र जैन और गोपाल राय

अब आपको बता दें कि दिल्ली में धरने की राजनीति क्यों हो रही है। अरविंद केजरीवाल का कहना है कि दिल्ली के सभी आईएएस अधिकारी हड़ताल पर हैं और इस वजह से दिल्ली सरकार के कार्यों का किर्यान्वयन नहीं हो पा रहा है। उन्होंने उप-राज्यपाल से हड़ताल खत्म करवाने की मांग की है और साथ ही प्रधानमंत्री से भी मामले में दखल देने की मांग की है। इसके अलावा, वह डोर-टू-डोर लोगों तक राशन पहुंचाने की योजना पर मंज़ूरी देने की भी मांग कर रहे हैं। हालांकि आईएएस अधिकारियों के संघ ने दिल्ली में किसी भी हड़ताल से इनकार किया है।

शक्तिशाली केंद्र सरकार और सीमित अधिकारों वाली दिल्ली सरकार के बीच की यह लड़ाई नीति आयोग की बैठक तक भी पहुंची। ममता बनर्जी, चंद्रबाबू नायडू, पी. विजयन और एच.डी. कुमारस्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मामले पर बात की और अधिकारियों की हड़ताल खत्म करवाने की मांग की।

Df4NGjsW0AAGjFR

HD Kumaraswamy greets PM Modi on the sidelines of the NITI Aayog meet as Pinarayi Vijayan, Chandrababu Naidu and Mamata Banerjee look on.

दिल्ली की जंग सिर्फ नेताओं तक सीमित नहीं है लेकिन दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा भी खोल दिया। पार्टी के कार्यकर्ता पूरी दिल्ली से इकट्ठा होकर प्रधानमंत्री आवास के लिए मार्च के लिए निकले तो उन्हें बीच में ही रोक लिया गया। अब ये भी हो सकता है कि जैसे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उप-राज्यपाल दफ्तर में धरने पर बैठ गए है वैसे ही उनकी पार्टी के कार्यकर्ता भी दिल्ली के लुटियंस ज़ोन की सड़कों पर पसर जाएं।

Df5SEmfWsAUwm1o

राजनीति में ड्रामा ना हो तो मज़ा नहीं आता और दिल्ली में राजनीति में ड्रामा काफी समय से जारी है।

अंत में…

आम आदमी पार्टी के प्रदर्शन के बीच अरविंद केजरीवाल ने कुछ कटाक्ष भरे ट्वीट किए हैं।

हम आ गये हैं आज सडक पर, लोकतंत्र की तलाश में ।

जब बैठी तानाशाही है, प्रधानमंत्री निवास में ।।

खूब करो साहेब कोशिश हमें मिट्टी में दबाने की,

शायद आपको नहीं मालूम, कि “हम बीज हैं”

आदत है हमारी हर बार उग जाने की..

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: